अजवाइन के फायदे आपकी सेहत के लिए

Loading...

अजवाइन ऐसी वनस्पति होती है जो सभी घरों में मसाले के रूप इस्तेमाल होती है और इसमें मौजूद कैल्शियम, पोटेशियम,फास्फोरस, आयोडीन, कैरोटिन जैसे तत्व हमारी सेहत के लिए बहुत ही अच्छे होते हैं। इसका नियमित रूप से सेवन करने से हम कई तरह की शीरीरिक रोगों को दूर कर सकते हैं। अधिकतर जगह पर अजवाइन का सेवन सर्दियों के दिनों में किया जाता है। अजवाइन का सेवन करने से हमारी पाचन शक्ति ठीक रहती है। इसके साथ ही कफ, पेट और छाती के दर्द के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होती है। इसके साथ ही हिचकी, जी का मचलना, डकार आना, पथरी में भी अजवाइन बहुत ही फायदेमंद होती है। संस्कृत में कहावत भी है- एकाजवानी शतमन्ना पचिका अर्थात अकेली अजवाइन ही सैकड़ों प्रकार के रोगों को पचाने वाली होती है। हैजे की प्राथमिक स्थिति में भी इसका प्रयोग बहुत ही उपयोगी होता है।

सर्दी जुकाम में फायदेमद है अजवाइन:–

सर्दी जुकाम या नाक बंद होने पर अजवाइन बहुत लाभकारी होती है। इसमें अजवाइन को हल्का सा कूटकर मुलायम कपड़े में बाधकर सूंघे। सर्दीयों में जब सर्दी हो जाती है, तो थोड़ी सी अजवाइन को अच्छी तरह से चबाएं और बाद में पानी पियें, ऐसा करने से आपको सर्दी से राहत मिलती है।

पेट खराब होने पर फ़ायदा देती है अजवाइन
जब भी आपका पेट खराब हो तो अजवाइन को चबा कर खाएं फिर बाद में गर्म पानी पियें। ऐसा करने से आपका पेट कुछ ही समय में ठीक हो जाता है। अगर आप के पेट में कीड़े हैं तब भी आप अजवाइन का इस्तेमाल कर सकते हो, इसके लिए अजवाइन में काला नमक मिलाकर खाएं, इससे पेट के कीड़े मर जाते हैं। और जब आपको लीवर से जुड़ी हुई परेशानी का सामना करना पड़े, तो ऐसे में अजवाइन बहुत फायदा करती है, इसके लिए 3 ग्राम अजवाइन और आधा ग्राम नमक भोजन के बाद लेने से काफी लाभ होता है। पेट में गडबडी होने पर अजवाइन लें, आप को फायदा मिलता है साथ में आप की भूख भी बढ़ती है।

loading...

वजन को कम करने में सहायता करता है अजवाइन
जब आपका वजन अधिक जाए या फिर आप मोटापे से परेशान हो तो आप अजवाइन का उपयोग करना चाहिए, इसके लिए रात को एक चम्मच अजवाइन को एक गिलास पानी में भिगोकर रख दो, सुबह छान कर इसमें एक चम्मच शहद मिलकर पीने से लाभ होता है। इसका नियमित रूप से सेवन करने से आपका मोटापा कम होता है।

खांसी होने पर फायदा देती है अजवाइन

जब खांसी होती है तो अजवाइन बहुत फायदा देती है जैसे कि…

  • अजवाइन, मुरठी, काली मिर्च का काढा बनाकर रात को पीने से खांसी से राहत मिलती है।
  • पुरानी खांसी जिसमें कफ हो, उसे चाहिए कि वो दिन में 20 मिगी तीन बार अजवाइन का सेवन करें, ऐसा करने से आपकी खांसी दूर होती है और कफ में भी राहत मिलती है।
  • अगर बार-बार खांसी हो रही हो, तो अजवाइन सत्व 125 मिगी घी दो ग्राम, शहद चार ग्राम की मात्रा में मिलाकर चाटने से खांसी में राहत मिलती है।
  • अजवाइन के रस में दो चुटकी काला नमक मिलकर उस का सेवन करें और बाद में गरम पानी पियें, ऐसा करने से खांसी ठीक हो जाती है।

मसूडों में सूजन को कम करती है अजवाइन

जब मसूड़ों में सूजन हो रही हो तो अजवाइन के तेल की कुछ बूंदों को गुनगुने पानी में डालकर कुल्ला करने से सुजन कम होती है। अजवाइन को सरसों के तेल में मिलकर गरम करें। इससे जोड़ो में मालिश करने से दर्द से राहत मिलती है। इसके साथ ही जब मुंह से दुर्गध आती है, तो थोड़ी सी अजवाइन को पानी में उबाल लें फिर इस पानी से दिन में दो या तीन बार कुल्ला करने पर मुंह की दुर्गध समाप्त हो जाती है।

एसिडिटी को खत्म करती है अजवाइन
एसिडिटी एक आम बात है, यह किसी को भी हो सकती है। इसका मुख्य कारण है अधिकतर भोजन, तलाभुना खाना, मसालेदार खाने का सेवन आदि। गैस या एसिडिटी हो तो व्यक्ति को ब्लडप्रेशर या शुगर की बीमारी भी हो सकती है। ऐसे में व्यक्ति को कुदरती उपाय आजमाने चाहिए जैसे कि अजवाइन सब के घर में उपलब्ध होती है और यह जल्दी फायदा भी करती है। अजवाइन एसिडिटी से कुदरती रूप से छुटकारा दिलाती है।

loading...
Loading...

LEAVE A REPLY